ग्रीन टी के फायदे | Green tea benefits in Hindi

1
83

ग्रीन टी के औषधीय गुणों और विभिन्न स्वास्थ्यगत लाभों के कारण, दुनिया के कई हिस्सों में इसका सेवन बड़े चाव से किया जाता है, लेकिन अपने प्रारंभिक दिनों में, यह केवल चीन में ही प्रसिद्ध थी, जहां सदियों से सिर दर्द से लेकर अवसाद (डिप्रेशन) व तनाव जैसी समस्याओं के उपचार में, एक औषधि के रूप में ग्रीन टी का प्रयोग किया जाता रहा है।

झुर्रियों से बचाव करे ग्रीन टी फेस मास्क

हरी चाय का सेवन, हमारी त्वचा पर दिखने वाले, बढ़ती उम्र के लक्षणों जैसे फाइन लाइंस, झुर्रियां, लटकी हुई त्वचा, दाग-धब्बे, सूरज की यूवी किरणों से होने वाली क्षति आदि को कम करने व दूर हटाने में काफी उपयोगी होता है, क्योंकि हरी चाय में एंटी-ऑक्सीडेंट और एंटी- एजिंग के गुण उपस्थित होते हैं। हरी चाय का सेवन त्वचा कैंसर से बचाव करने में भी सहायक होता है, क्योंकि हरी चाय में उपस्थित पॉलीफेनोल, हमारे शरीर के हानिकारक मुक्त कणों को प्रभावहीन कर देते हैं, जो कि हमारी त्वचा को बहुत क्षति पहुंचा सकते हैं, और हमारे उम्र में वृद्धि होने की प्रक्रिया को बढ़ावा दे सकते हैं।

डार्क सर्कल्स के उपचार में उपयोगी है ग्रीन टी बैग्स के गुण

हमारी आंखों के नीचे बनने वाले डार्क सर्कल और आंखों की सूजन का प्रभावी उपचार करने में हरी चाय का सेवन बहुत उपयोगी होता है, क्योंकि इसमें टैनिन और एंटी-ऑक्सीडेंट की मात्रा उपस्थित होती है। हरी चाय में उपस्थित एंटी-ऑक्सीडेंट, हमारी आंखों के चारों ओर नर्म त्वचा के नीचे की रक्त वाहिकाओं की कमी करने में सहायक होते हैं, जिसकी वजह से आंखों की सूजन और त्वचा के उभार (पफनेस) में कमी आती है। इसके अतिरिक्त हरी चाय का सेवन, आंखों के नीचे के काले घेरे को कम करने व उसे समाप्त करने में भी सहायक होता है, जो कि इस में उपस्थित विटामिन के(K) की वजह से होता है।

सनबर्न से त्वचा की रक्षा करें ग्रीन टी फेस पैक के गुण

हरी चाय में पाए जाने वाले थियोब्रोमाइन, टैनिक एसिड और पॉलीफेनोल्स, सूर्य की नुकसानदेह पराबैंगनी (यूवी) किरणों के प्रभाव से, हमारी त्वचा में होने वाली क्षति को प्रभावहीन करके सनबर्न से प्रभावित त्वचा को, आराम पहुंचाने, उनमें सुधार करने तथा पुनः तरोताजा बनाने में बहुत सहायक होते हैं, इसलिए हरी चाय से बने फेस पैक का प्रयोग, नुकसानदेह पराबैगनी (यूवी) किरणों से हमारी त्वचा की सुरक्षा करने में बहुत लाभप्रद होता है।

त्वचा छिद्रों (पोर्स) की कमी करे ग्रीन टी से बने मास्क का प्रयोग

हरी चाय का सेवन हमारी त्वचा के बढ़े हुए छिद्रों को कम करने में सहायक होता है, क्योंकि हरी चाय में कसैलापन और एंटी-ऑक्सीडेंट के गुण उपस्थित होते हैं। त्वचा पर इन छिद्रों के बड़े होने से यह शीघ्र ही बैक्टीरिया से संक्रमित हो जाते हैं, यह इन्हें कम कर के हमारी त्वचा को संक्रमण से बचाता है, साथ ही यह हमारी त्वचा को कसकर, उसे चिकना और सुंदर बनाने में सहायता करता है, इस कारण से ग्रीन टी से बने मास्क का त्वचा पर प्रयोग बहुत फायदेमंद होता है।

ग्रीन टी फेस पैक से उपचार करें मुहासों का

कैटेचिन्स एक प्रकार के एंटीबायोटिक घटक ( एजेंट) होते हैं, जो हमारे शरीर में मुंहासों के पैदा होने के मुख्य कारकों में से एक, हार्मोन असंतुलन को संतुलित व नियंत्रित करने में सहायक होते हैं। हरी चाय में यह एंटीबायोटिक घटक कैटेचिन्स पाया जाता है, जो मुहांसों से उत्पन्न होने वाले बैक्टीरिया से मुकाबला करने में भी हमारी सहायता करते हैं। हरी चाय का सेवन मुहांसों के कारण होने वाले सूजन और लालिमा को भी कम करने में सहायक होता है। क्योंकि इसमें सूजन को कमी करने वाले गुण उपस्थित होते हैं, इसलिए ग्रीन टी का फेस पैक के रूप में प्रयोग मुहांसों के प्रभावी उपचार में बहुत उपयोगी होता है।

ग्रीन टी का प्रयोग एक अच्छे स्किन क्लींजर के रूप में

हरी चाय का प्रयोग एक अच्छे स्किन क्लींजर का भी कार्य करता है, क्योंकि ग्रीन टी में पाए जाने वाले पॉलीफेनोल्स हमारे त्वचा के रक्त परिसंचरण में वृद्धि करते हैं, और साथ ही मुहांसों से मुकाबला करके, उन्हें दूर करने में भी सहायता करते हैं। यह जरूरी नहीं है कि आप इसके लिए महंगे पिंपल क्रीम या स्किन क्लींजर्स का प्रयोग करें, बल्कि इसके लिए ग्रीन टी बैग को 10 सेकंड के लिए गर्म पानी में डूबा कर रखें, उसके बाद बैग को काटकर ग्रीन टी को अपने दैनिक प्रयोग वाले क्लींजर में मिलाकर मिश्रण बना लें और इसे अपनी त्वचा पर प्रयोग करें, इसे लगाने के बाद 5 मिनट के लिए हल्के हाथों से मालिश करें और फिर साफ पानी से इसे धो लें। यह उपाय एक बहुत अच्छे स्किन क्लींजर की तरह आपकी त्वचा के लिए लाभप्रद होता है।

फेस स्टीम में उपयोगी है हरी चाय के गुण

हमारे चेहरे की त्वचा की सफाई व अच्छे स्वास्थ्य के लिए भाप लेना बहुत उत्तम होता है, यह तो आपको पता ही है, क्योंकि जब आप भाप लेते हैं, तो हमारी त्वचा भाप को अवशोषित कर लेती है। भाप के लिए, ग्रीन टी का प्रयोग करने के लिए, तीन बड़े चम्मच ग्रीन टी की पत्तियों को, दो गिलास पानी में मिलाकर, उसे उबालें और फिर निकलने वाली भाप का प्रयोग, अपने चेहरे की त्वचा पर करें, इस प्रकार ग्रीन टी की भाप लेने से आपकी त्वचा, ग्रीन टी में उपस्थित फ्लैनोनोइड और पॉलीफेनोल की कुछ मात्रा को अवशोषित कर लेती है, जो आपकी त्वचा के अच्छे स्वास्थ्य को बढ़ाने, उसे साफ करने व उसकी चमक में वृद्धि करने में बहुत फायदेमंद होता है, इसलिए ग्रीन टी को सादे पानी के साथ मिलाकर स्टीम लेना, हमारी त्वचा के लिए अच्छा और आसान उपाय है।

त्वचा को एक्सफोलिएट करने में उपयोगी है ग्रीन टी के गुण

हरी चाय की पतियों का प्रयोग हमारी त्वचा के एक्सफोलिएशन (मृत कोशिकाओं को हटाना) की क्रिया में उपयोगी होता है। इसके लिए हरी चाय की सूखी पत्तियों को पीसकर मोटा पाउडर (दरदरा पाउडर) बनाकर उसे त्वचा पर प्रयोग करने से, यह त्वचा की गंदगी, विषैले पदार्थों और त्वचा की मृत कोशिकाओं के साथ ही अन्य अशुद्धियों को भी दूर करने में सहायक होता है और इस प्रकार यह हमारी त्वचा को एक्सफोलिएट करता है।

त्वचा को टोन (एकसार) करे ग्रीन टी के गुण

ग्रीन टी हमारी त्वचा के लिए एक प्राकृतिक टोनर की तरह भी कार्य करता है, साथ ही यह हमारी त्वचा को हाइड्रेटेड रखने में भी सहायक होता है, जो कि हमारी त्वचा के अच्छे स्वास्थ्य के लिए बहुत जरूरी होता है। यह प्रसिद्ध पेय पदार्थ हमारी त्वचा से विषैले पदार्थों को बाहर निकालने और बड़े छिद्रों को कम करने में बहुत सहायक होता है, और इस कारण हमारी त्वचा को अच्छा स्वास्थ्य और चमक प्रदान करने में बहुत उपयोगी होता है।


green tea ke fayde,green tea ke fayde in hindi,green tea benefits,green tea benefits in hindi,green tea khane ke fayde,green tea health benefits,hari chay ke fayde,green tea benefits weight loss,green tea benefits for skin,health tips in hindi video,free hindi advice

1 कमेंट

कमेंट करें

अपनी कमेंट यहाँ लिखे
यहा आपका नाम लिखे