हेयर ट्रांसप्लांट के क्या क्या फायदे है? | Hair Transplant ki Jankari Hindi me

0
103

ज्यादातर लोगों के मन में हेयर ट्रांसप्लांट की प्रक्रिया की सुरक्षा को लेकर शंका रहती है, लेकिन यह भी सही है कि किसी भी चीज के लाभ और हानि दोनों ही होते हैं, उसी प्रकार से हेयर ट्रांसप्लांट की प्रक्रिया भी आपके लिए सुरक्षित हो सकती है, अगर आपने इस प्रक्रिया को किसी अनुभवी विशेषज्ञ या चिकित्सक के द्वारा करवाया हो।

हेयर ट्रांसप्लांट से होने वाले लाभ

गंजेपन की समस्या से छुटकारा मिलता है

हेयर ट्रांसप्लांट प्रक्रिया का सबसे प्रमुख लाभ यह है कि यह हमें गंजेपन की समस्या से छुटकारा दिलाकर, हमारे रूप व व्यक्तित्व (पर्सनैलिटी) को उभारने और निखार लाने में बहुत सहायक होता है। क्योंकि गंजेपन की समस्या होने पर हमें कई बार अपने दोस्तों और परिचितों के बीच उपहास का पात्र बनना पड़ता है, जिसकी वजह से व्यक्ति अपने ऊपर आत्मविश्वास को खोने लगता है, और उसका मनोबल भी कम होने लगता है, तब हेयर ट्रांसप्लांट करवाना इस समस्या को हल करने का सबसे अच्छा उपाय है।

हमारे रूप (लुक) और व्यक्तित्व (पर्सनैलिटी) को निखारता है

यदि आप अपने बालों से संबंधित समस्या की वजह से परेशान और तनावग्रस्त हैं, तो इसके लिए हेयर ट्रांसप्लांट करवाना एक बहुत अच्छा उपाय है, क्योंकि जब हेयर ट्रांसप्लांट से आपके बाल घने, काले और चमकदार होते हैं, तो यह देखने में सुंदर लगता है, जिससे आपके लुक को अच्छा बनाने में बहुत सहायता मिलती है, साथ ही लंबे, घने और चमकदार बाल आपके व्यक्तित्व को निखारने में भी बहुत सहायक होते हैं।


हेयर ट्रांसप्लांट से होने वाले दुष्प्रभाव

इंफेक्शन (संक्रमण) और रक्त स्त्राव के समस्या की संभावना

हेयर ट्रांसप्लांट की इस प्रक्रिया में उचित विशेषज्ञता के अभाव में आपको कई समस्याएं हो सकती हैं। अगर आपका हेयर ट्रांसप्लांट, कोई ऐसा सर्जन करता है, जो पूरी तरह योग्य और विशेषज्ञ ना हो, तो उनकी अल्प जानकारी के कारण, आपके स्कैल्प में से रक्त स्त्राव की समस्या हो सकती है, साथ ही यदि आप किसी ऐसे स्थान पर सर्जरी का कार्य करवाते हैं जहां उचित साफ-सफाई ना हो, साफ उपकरणों का प्रयोग ना किया गया हो और विशेषज्ञों द्वारा भी लापरवाही की गई हो, तो ऐसी स्थिति में आप के सिर में संक्रमण की बड़ी समस्या उत्पन्न हो सकती है, जो आपके लिए नुकसानदेह हो सकती है।

बालों के पतले होने की समस्या

हेयर ट्रांसप्लांट की प्रक्रिया में किसी लापरवाही के कारण या कई बार सर्जरी के पश्चात कई बाल उचित प्रकार से नहीं लग पाते हैं, जिसकी वजह से वे कमजोर होकर झड़ने लगते हैं, और बालों के पतले होने की भी समस्या होने लगती है।

खुजली होने की संभावना

हेयर ट्रांसप्लांट की प्रक्रिया के बाद आप के सर में पपड़ी जमने की स्थिति में, कई बार आपको सिर में खुजली की समस्या का सामना करना पड़ सकता है, इस अवस्था में ज्यादा खुजली होने पर, अपने योग्य चिकित्सक से अवश्य परामर्श करना चाहिए। यह पपड़ी उपयुक्त शैंपू से बालों को अच्छी तरह धोने पर साफ हो जाती है, लेकिन फिर भी इस समस्या से बचाव करने के लिए, आपको अपने सिर की उचित प्रकार से साफ-सफाई करना चाहिए और इस में लापरवाही नहीं करनी चाहिए।

घाव हो जाने के समस्या की संभावना

हेयर ट्रांसप्लांट की प्रक्रिया करवाने वाले हर व्यक्ति को यह समस्या नहीं होती है, ज्यादातर यह समस्या उन्हें होने की संभावना होती है, जो स्ट्रिप प्लांटेशन करवाते हैं। यह घाव कई बार ज्यादा घातक भी हो सकता है, विशेषकर जब हेयर प्लांटेशन में शार्ट हेयर स्टाइल किया गया होता है। यह आपके सिर के लिए भी बहुत हानिकारक होता है।

सूजन होने की संभावना होती है

हेयर ट्रांसप्लांट करवाने वाले जिन लोगों के स्कैल्प की स्किन टोन अच्छी नहीं होती है, उन्हें सूजन की समस्या होने की संभावना होती है। सूजन की यह समस्या अगर ज्यादा हो जाए तो आपके माथे पर भी सूजन दिखने लगती है। यह समस्या भी ट्रांसप्लांट करवाने वाले हर व्यक्ति को नहीं होती है, लेकिन समस्या के ज्यादा होने पर विशेषज्ञ चिकित्सक से उचित परामर्श करके इस समस्या को दूर करने का प्रयास किया जा सकता है।

रक्त प्रवाह होने की समस्या हो सकती है

हेयर ट्रांसप्लांट में रक्त प्रवाह होना वैसे तो कोई आम समस्या नहीं है, क्योंकि हेयर ट्रांसप्लांट की प्रक्रिया के समय रक्त स्त्राव नहीं होता है, किंतु कुछ ऐसे रोगी ,जिनके सर पर अधिक दबाव होता है, जिसके कारण उन्हें यह समस्या हो सकती है, लेकिन यह एक सामान्य बात होती है, और इसे आसानी से ठीक किया जा सकता है।

दर्द का अहसास होना

हेयर ट्रांसप्लांट के बाद दर्द का एहसास होता है, लेकिन इस समस्या से अधिक परेशान होने की जरूरत नहीं होती है, क्योंकि यह दर्द धीरे-धीरे कम होता चला जाता है, और हेयर ट्रांसप्लांट के बाद होने वाले दर्द की समस्या एक सामान्य बात है

सिर के सुन्न होने की समस्या

हेयर ट्रांसप्लांट की प्रक्रिया में यह समस्या भी होती है कि हेयर ट्रांसप्लांट के बाद, कुछ समय तक आप के सर में कोई एहसास नहीं होता यानी कि आपका सर सुन्न हो जाता है, लेकिन वैसे तो यह धीरे-धीरे कुछ समय बाद ठीक हो जाता है, किंतु यदि यह समय के साथ ठीक ना हो, तो आपको योग्य चिकित्सक से राय जरूर लेनी चाहिए और इसका उचित उपचार कराना चाहिए।


किन बातों का ध्यान रखें हेयर ट्रांसप्लांट करवाने के पहले

क्वालिफाइड एक्सपर्ट से ही करवाएं हेयर ट्रांसप्लांट

हेयर ट्रांसप्लांट की यह प्रक्रिया महंगी होने के साथ-साथ काफी तकलीफदेह और दर्दनाक भी होती है, वैसे तो आपको जगह-जगह पर ऐसे कई सैलून या क्लीनिक मिल जाएंगे, जो आपको स्वयं के या विज्ञापनों के द्वारा हेयर ट्रांसप्लांट तकनीक के बारे में विभिन्न परामर्श देंगे, लेकिन आपको इन विज्ञापनों और ऐसे क्लीनिक की बातों में न आते हुए हेयर ट्रांसप्लांट की प्रक्रिया के लिए किसी योग्य विशेषज्ञ या सर्टिफाइड डर्मेटोलॉजिस्ट से ही संपर्क करना चाहिए और उनसे ही यह प्रक्रिया करवानी चाहिए।

हेयर ट्रांसप्लांट क्लीनिक की उचित जांच कर लें

जब आपने एक बार हेयर ट्रांसप्लांट प्रक्रिया करवाने के बारे में तय कर लिया, तो फिर जिस क्लीनिक से आपको हेयर ट्रांसप्लांट करवाना हो, उसके बारे में और वहां के चिकित्सकों और विशेषज्ञ डॉक्टरों के बारे में भी अच्छी तरह से जानकारी इकट्ठी करके जांच पड़ताल कर लेना चाहिए, इसके लिए आपको ऐसे व्यक्तियों से मिलना चाहिए, जो पहले वहां हेयर ट्रांसप्लांट करवा चुके हैं, ताकि उस क्लीनिक और वहां के विशेषज्ञों के बारे में आपको उचित जानकारी प्राप्त हो सके और आपकी शंकाओं का समाधान हो सके।


hair transplant benefits,hair transplant result in hindi,5 month of hair transplant,hair transplant ke side effect in hindi,hair transplant ke baad,hair transplant ke baare mein,hair transplant ke bare me jankari,hair transplant ki life,hair transplant ki jankari hindi me,hair transplant ke fayde,health tips in hindi video,free hindi advice

कमेंट करें

अपनी कमेंट यहाँ लिखे
यहा आपका नाम लिखे